Vijay Sangharsha

Newspaper

उसमें ऐसा क्या खास था ?

1 min read

भारतीय टीम के पूर्व ऑलराउंडर युवराज सिंह ने एक बड़ा खुलासा किया है। युवराज ने कहा है कि बतौर भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने मिडिल ऑर्डर बैट्समैन सुरेश रैना को ज्यादा मौका दिया था। सुरेश रैना और युवराज सिंह भारत की वर्ल्ड कप 2011 विनिंग टीम का हिस्सा थे, जिसके कप्तान एमएस धोनी थे। युवी ने खुलासा किया है कि श्रीलंका के खिलाफ वर्ल्ड कप 2011 के फाइनल के दौरान रैना और युसुफ पठान में से किसी एक को चुनने पर काफी माथापच्ची हुई थी। बाएं हाथ के दिग्गज बल्लेबाज युवराज सिंह ने ₹ कहा है, ‘सुरेश रैना के पीछे बड़ी सपोर्ट थी, क्योंकि एमएस धोनी उनका समर्थन करते थे। हर एक कप्तान का एक पसंदीदा खिलाड़ी होता है और मेरा मानना है कि माही ने उस समय कप्तान के तौर पर सुरेश रैना को ज्यादा मौका दिया।’ युवी ने कहा है, ‘युसुफ पठान उस समय अच्छा प्रदर्शन कर रहा था और यहां तक कि मैं भी अच्छी फॉर्म था और विकेट भी ले रहा था। सुरेश रैना उस समय अच्छी लय में नहीं था। उस समय हमारे पास लेफ्ट-आर्म स्पिनर नहीं था और मैं विकेट ले रहा था, इसलिए मुझे चुनने के अलावा कोई विकल्प उनके पास नहीं था।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Categories